मेरे देश की धरती Mere Desh Ki Dharti Lyrics in Hindi – Upkar

Mere Desh Ki Dharti Lyrics in Hindi is from the Album Upkar (1967) sung by Mahendra Kapoor. Music is composed by Anandji Virji Shah, Kalyanji Virji Shah. Lyrics is penned by Gulshan Bawra. Movie stars Asha Parekh, Manoj Kumar, Prem Chopra. Music Label is Saregama.

Mere Desh Ki Dharti Lyrics in Hindi

Mere Desh Ki Dharti Lyrics in Hindi

मेरे देश की धरती
मेरे देश की धरती सोना उगले
मेरे देश की धरती

बैलों के गले में जब घुंघरू जीवन का राग सुनाते है
ग़म कोस दूर हो जाता है खुशियों के केवल मुस्काते है
ू सुनके रहत की आवाज़ें
सुनके रहत की आवाज़ें यूँ लगे कहीं शहनाई बजे
आते ही मस्त बहारों के दुल्हन की तरह हर खेत सजे
मेरे देश की धरती
मेरे देश की धरती सोना उगले
मेरे देश की धरती

जब चलते है इस धरती पे हल ममता अंगड़ाइयां लेती है
क्यों ना पूजे इस माटी को जो जीवन का सुख देती है
ू इस धरती पे जिसने जन्म लिया
इस धरती पे जिसने जन्म लिया
यहाँ अपना पराया कोई नहीं
यहाँ अपना पराया कोई नहीं है सब पे है मान उपकार तेरा
मेरे देश की धरती
मेरे देश की धरती सोना उगले
मेरे देश की धरती

ये बाग़ है गौतम नानक का खिलते है अमन के फूल यहां
गाढ़ी
गाढ़ी
राग हरा हरी सिंह नलवे से रैग लाल है लाल बहादुर से
रैग बना बसति भगत सिंह रैग अमन का वीर जवाहर से
मेरे देश की धरती
मेरे देश की धरती सोना उगले
मेरे देश की धरती..

TitleMere Desh Ki Dharti Lyrics
ArtistMahendra Kapoor
MusicAnandji Virji, Kalyanji Virji
LyricsGulshan Bawra
Album Upkar

Music Video of Mere Desh Ki Dharti Song

More Songs You May Like:

साबरमती के संत Sabarmati Ke Sant Tune Kar Diya Kamal Lyrics – Asha Bhosale


जहां डाल डाल पर Jahan Daal Daal Par Sone Ki Chidiya Lyrics – Mohammed Rafi


Jo Shahid Hue Hain Unki Lyrics – Lata Mangeshkar


(Visited 27 times, 1 visits today)